माँ की ममता पर शायरी : नमस्ते दोस्तों कैसे है आप उमीद करते है की अच्छे ही होंगे स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में हमने यहा पर माँ की मोहब्बत शायरी और माँ पर शायरी हिंदी में लिखी है जो आपको भावुक कर देंगी और साथ में आपको माँ के और भी करीब ले आएगी। 

माँ की जितनी तारीफ करो उतना ही कम है भगवान के रूप में इस दिनिया में अगर कोई है तो वो सिर्फ माँ ही है और उसकी जगह कोई नहीं ले सकता। ऐसे कोई शब्द नहीं जो माँ की अच्छाई को पूरा बया कर सके बस हमें इसका एहसास माँ की ममता से होता है। 


माँ की ममता पर शायरी
माँ की ममता पर शायरी

मम्मी का प्यार दुलार ऐसा किसी और रिश्ते में कहा देखने को मिलता है इसलिए आप यहां पर दी गई माँ की तारीफ में शायरी को अपनी मम्मी से शेयर कर सकते है और उन्हें ये एहसास दिला सकते है की आप भी एक अच्छा बेटा या बेटी है। 

अगर आपको हमारा पोस्ट पसंद आए तो अपने दोस्तों रिस्तेदारो या परिवार में जरूर शेयर करे। यहाँ पर आपको प्यारी माँ की ममता शायरी फोटो भी मिलेंगी जिन्हे आप अपने Whatsapp, Facebook, Instagram अकाउंट पर शेयर कर सकते है धन्यवाद।

Maa ka pyar shayari - माँ की ममता पर शायरी


Best maa ki mamta shayari
Best maa ki mamta shayari

Jab chot bache ko lagti hai toh
Maa roti hai
Aesi bechaini kisi aur rishte mee
Kaha hoti hai

जब चोट बच्चे को लगती है तो
माँ रोती है
ऐसी बेचैनी किसी और रिश्ते में
कहा होती है। 


Yu toh maine har 
Sohrat paali magar 
Sukun mujhe maa ke 
Gale lagne sehi mila..!

यू तो मैंने हर 
सोहरत पाली मगर 
सुकुन मुझे माँ के 
गले लगने से ही मिला। 

माँ की ममता पर शायरी

 Mushkil safar bhi aasan 
lagne lagta hai
Mujhe ye maa ki duao ka asar
lagne lagta hai

 मुश्किल सफर भी आसान
लगने लगता है
मुझे ये माँ की दुआओ का असर
लगने लगता है। 

 
Uske honto par kabhi
badua nahi hoti
Bas ek maa hai jo kabhi
naraz nahi hoti

उसके होंटो पर कभी
बदुआ नहीं होता
बस एक माँ है जो कभी
नराज नहीं होती। 


Maa jab bhi daante toh ek baar
Uski aankho mee dekh lena
Pyar hi pyaar nazar aayega..!

माँ जब भी डांटे तो एक बार
उसकी आँखों में देख लेना
प्यार ही प्यार नज़र आएगा। 


Tum kya hi sikhaoge mujhe
Pyar karne ka tarika meri
Maa ne ek hath se thapad toh
Dusre hath se khana khilaya hai

तुम क्या ही सिखोगे मुझे
प्यार करने का तारिका मेरी
माँ ने एक हाथ से थप्पड़ तो
दसरे हाथ से खाना खिलाया है। 

माँ पर शायरी हिंदी में

Maa tere dabbo ki wo 
Do rotiya kahi milti nahi
Aur hotel ki rotiyo se kabhi
Meri bhook mit ti nahi..! 

माँ तेरे डब्बो की वो
दो रोटी कहीं मिलती नहीं
और होटल की रोटी से कभी
मेरी भूक मिट ती नहीं। 


माँ की मोहब्बत शायरी
माँ की मोहब्बत शायरी

Maa ke hone se mujhe
Zindagi ehsaas lagti hai
Kabhi mat kehna maa se
Ki tu meri kya lagti hai..!

मां के होने से मुझे
जिंदगी एहसास लगती है
कभी मत कहना मां से
की तू मेरी क्या लगती है। 


Maa mujhe ek baar 
Teri goud mee sona hai
Maa mujhe ek baar teri
Loriyo mee khona hai..!

माँ मुझे एक बार 
तेरी गोद में सोना है
माँ मुझे एक बार तेरी
लोरियो में खोना है। 

माँ की मोहब्बत शायरी

Pardesh mee ho toh 
Desh ki yaad aati hai
Aur usse bhi jayada mujhe
Meri maa ki yaad aati hai..!

परदेश में हो तो
देश की याद आती है
और उससे भी ज्यादा मुझे
मेरी माँ की याद आती है। 


Ek sachi yodha
Toh maa hi hoti hai
Wo apne liye kum aur
Santan ke liye jyada jeeti hai ..!

एक सच्ची योद्धा
तो माँ ही होती है
वो अपने लिए कम और
संतान के लिए ज्यादा जीती है। 


Aasmaa shayad kahi toh 
Khatm hota hoga magar
Maa ka pyaar kabhi bhi
Khatm nahi ho sakta...!

आस्मा शायद कहीं तो
ख़त्म होता होगा मगर
माँ का प्यार कभी भी
ख़त्म नहीं हो सकता। 


Uss maa par kya beetati hai jab 
Uski hi santaan uss se kehti hai
Toone kiya hi kya hai mere liye..!

उस मां पर क्या बितती है जब 
उसकी ही संतान उससे कहती है
तूने किया ही क्या है मेरे लिए। 

Best maa ki mamata shayari

Agar maa naa ho toh koi
Pyar nahi karta
Mamta ka farz bhi koi 
Ada nahi karta
Hey bhagwan meri maa ko
Tu salamat rakhna
Kyoki maa ke jaisi koi 
Dua nahi karta..!

अगर माँ ना हो तो कोई
प्यार नहीं करता
ममता का फ़र्ज़ भी कोई
अदा नहीं करता
हे भगवान मेरी माँ को
तू सलामत रखना
क्योकि माँ के जैसी कोई
दुआ नहीं करता। 


Bhook toh ek 
Roti bhi mita de
Agar thali mee roti 
Maa tere hath ki ho..!

भुक तो एक
रोटी भी मिटा दे
आगर थाली में रोटी
 माँ तेरे हाथ की हो। 


Best maa ka pyar shayari
Best maa ka pyar shayari

Chalte firte wo mujhe 
Dua deti hai
Shayad maa hi hai jo
jannat deti hai

चलते फिरते वो मुझे
दुआ देता है
शायद मां ही है जो
जन्नत देती है। 


Duniya ke har rishte mee
Milawat hai
Kache rang se har ghar ki
Sajawat hai
Kai saalo se main dekh 
raha hu
Chehre par na koi shikan na
Thakawat hai
Maa ki mamta mee naa koi
Milawat hai..!

दुनिया के हर रिश्ते में
मिलावट है
कच्चे रंग से हर घर की
सजावट है
काई सालो से मैं देख
रहा हु
चेहरे पर ना कोई शिकन ना
थकावट है
माँ की ममता में ना कोई
मिलावट है। 

Best maa ka pyar shayari

Maa ki toh aadat hi hai 
Pyar karna bina kisi 
Sawal jawab ke
Warna mehbuba ke aage 
Rone se bhi hame kuch 
Hasil nahi hua..!

माँ की तो आदत ही है
प्यार करना बिना किसी
सावल जवाब के
वरना महबूबा के आगे
रोने से भी हमें कुछ
मुश्किल नहीं हुआ। 


Duniya ko toh samjhana 
hi padta hai 
Magar maa bataye bina hi 
samajh jaati hai..!

दुनिया को तो समझाना
ही पड़ता है
मगर माँ बताए बिना ही
समझ जाती है। 


Iss tarah meri galtiya maaf
Kar deti hai maa
Samne aate hi apna dil saaf
Kar deti hai maa..!

इस तरह मेरी गलतिया माफ़ी
कर देती है माँ
सामने आते ही अपना दिल साफ
कर देती है माँ। 


Hamne mandir masjid 
Gurudware mee maatha teka
Dua kubul hui jab maa ke 
Charno mee maatha teka..!

हमने मंदिर मस्जिद 
गुरुद्वारे में माथा टेका
दुआ कुबुल हुई जब मां के 
चरणों में माथा टेका। 

माँ पर दो लाइन शायरी

Andhere ka phirse muh 
kaal ho gaya
Jab maa ne aankh kholi
toh ujaala ho gaya

अंधेरे का फिरसे मुह
काला हो गया
जब मां ने आंख खोली
तो उजाला हो गया। 


माँ की ममता पर शायरी
माँ की ममता पर शायरी

Maa ka kandha tab tak
Apko sahara deta hai
Jab tak maa ko aapke
Kandhe ki jarurat na pade

माँ का कंधा तब तक
आपको सहारा देता है
जब तक मां को आपके
कांधे की जरुरत न पड़े।


Jo asar dawae nahi kar paati
Wo asar maa ki duao mee hai

जो असर दवाए नहीं कर पाती
वो असर मां की दुआओं में है। 

माँ की तारीफ में शायरी

Bagwan ka hi ek roop 
hai maa
Devi maa ka swaroop 
hai maa
Jaha hoti hai wo jagah 
jannat hai
Maa hai toh sab kuch 
hai maa

भगवान का ही एक रूप
है माँ
देवी मां का स्वरूप
है माँ
जहां होती है वो जगह
जन्नत है
माँ है तो सब कुछ
है माँ। 


Maa tere saaye mee
Gum gum nahi rehta jab
Tu goud mee sulaati hai
Toh main kisi aasma se 
Kum nahi rehta..!

माँ तेरे साए में
गम गम नहीं रहता जब
तू गोद में सुलाती है
तो मैं किसी आसमा से
कम नहीं रहता। 


Maa jaisa khayal
Shayad hi koi rakh paye..!

माँ जैसा ख्याली
शायद ही कोई रख पाए। 


Bachpan ke wo din 
Aaj bhi yaad hai jab 
Main rota tha toh maa 
Seene se laga leti thi..!

बचपन के वो दिन
आज भी याद है जब
मैं रोता था तो मां
सीने से लगा लेती थी। 

माँ की ममता पर शायरी 2 line 

Jab bhi chalti hai
Gum ki aandhi toh
Maa mujhe apni baaho
Mee chupa leti hai..!

जब भी चलती है
गम की आँधी तो
माँ मुझे अपनी बहो
में छुपा लेती है। 



माँ पर शायरी हिंदी में
माँ पर शायरी हिंदी में

Bhale hi main aab reng
Reng kar naa chalta ho
Magar aaj bhi maa main 
Tere liye chota bacha hi hu..!

भले ही मैं अब रेंग
रंगकर ना चलता हो
मगर आज भी माँ मैं
तेरे लिए छोटा बच्चा ही हु। 


Zindagi safal bana deti hai
maa ki dua
Mushkil aasan bana deti hai
maa ki dua
Kabhi bhul ke bhi maa ko 
rulana mat
Rote hue ko hasa deti hai
maa ki dua..!

जिंदगी सफल बना देती है
माँ की दुआ
मुश्किल आसान बना देती है
माँ की दुआ
कभी भूल के भी माँ को
रूलाना मत
रोते हुए को हसा देता है
माँ की दुआ। 

माँ की मोहब्बत शायरी

Maa hame pehle 
9 mahine pait mee 
Rakhti hai aur uske baad 
Zindagi bhar apne dil mee..!

माँ हमें पहले
9 महिने पेट में
रखती है और उसके बाद
जिंदगी भर अपने दिल में। 


Bheed mee bhi maa 
Sharm  bhula deti hai 
Agar bhooka ho bacha toh 
Maa usse doodh pila deti hai..!

भीड़ में भी माँ
शर्म भूला देती है
अगर भुका हो बचा तो
माँ उसे दूध पिला देती है। 


Jab ungaliya pakad kar
Chalt hai maa ki
Toh maa kabhi thokar 
khane nahi deti..!

जब उंगलियां पकड़ कर
चलते हैं माँ की
तो माँ कभी ठोकर
खाने नहीं देती। 


Ek waqt tha jab maa khane
Keliye mere piche rehti thi
Aur abb toh koi puchne
Wala nahi khane ko..!

एक वक्त था जब मां खाने
के लिए मेरे पीछे रहती थी
और अब तो कोई पूछने
वाला नहीं खाने को। 

माँ पर शायरी हिंदी में

Jis tarah maa ne 
Mera khayal rakha
Ussi tarah main bhi 
Maa ka khayal rakhunga..!

जिस तरह मां ने
मेरा ख्याल रखा
उसी तरह मैं भी
मां का ख्याल रखूंगा। 


माँ की तारीफ में शायरी
माँ की तारीफ में शायरी

Uss ek rupay ke aage
Laakho ki koi kimat nahi
Jo maa bachpan mee deti thi.!

उस एक रूपए के आगे
लाखों की कोई कीमत नहीं
जो माँ बचपन में देती थी। 


Maa ki ek muskan 
Saare gum bhula deti hai
Dil ko sukun milta hai
Jab maa gale laga leti hai..!

माँ की एक मुस्कान
सारे गम भूला देती है
दिल को सुकुन मिलता है
जब मां गले लगा लेती हैं।

माँ की ममता पर शायरी

Jab koi kehta hai ki
Aaj ke waqt mee kon
Kis se mohabbat karta hai
Toh main kehta hu unhone 
Kabhi maa ko sahi se jana nahi

जब कोई कहता है कि
आज के वक्त में कोने
किससे मोहब्बत करता है
तो मैं कहता हूं उन्होंने 
कभी मां को सही से जाना नहीं। 


Usko bhagwan ne kuch 
Aise banaya hai
Jaise ki koi khusurat sa 
Dil banaya hai
Bas wo apne liye thoda 
Kum mangti hai
Wo meri pyari maa hai jo 
Sab kuch janti hai..!

उसको भगवान ने कुछ
ऐसा बनाया है
जैसे की कोई खूबसूरत सा
दिल बनाया है
बस वो अपने लिए थोड़ा
कम मांगती है
वो मेरी प्यारी माँ है जो
सब कुछ जानती है। 

 
Maa ki kadar karna
Hame ache se aata hai
Hum toh mulk ti mitti
Ko bhi maa kehte hai

माँ की कदर करना
हमें अच्छे से आता है
हम तो मुल्क की मिट्टी
को भी माँ कहते हैं। 


Naa jane hum kyo bhool 
Jaate hai
Zindagi se pata nahi kya
Chahte hai
Zindagi ek din ye ehsaas
kara degi ki
Maa ke bina zindagi kitni
mushkil hai..!

ना जाने हम क्यों भूल
जाते हैं
जिंदगी से पता नहीं क्या
चाहते हैं
जिंदगी एक दिन ये एहसास
करा देगी की 
मां के बिना जिंदगी कितनी
मुश्किल है। 

माँ की तारीफ में शायरी

Maa toh jannat ka phool hai
Pyar karna iska husul hai
Duniya ki mohabbat fizul hai
Maa ki har dua kabul hai
Maa ka dil mat dukhana kabhi
Maa bina zindagi fizul hai..!

माँ तो जन्नत का फूल है
प्यार करना इसका हुसुल है
दुनिया की मोहब्बत फिजुल है
माँ की हर दुआ कबुल है
माँ का दिल मत दुखाना कभी
माँ बिना जिंदगी फिजुल है। 


माँ पर दो लाइन शायरी
माँ पर दो लाइन शायरी

Jisne mujhe ungli pakadkar
Chalne sikhaya
Aaj bhi girta hu toh sabse phele
Uthati hai Maa..!
 
जिसने मुझे उंगली पकड़कर
चलना सिखाया
आज भी गिरता हु तो सबसे पहले
उठाती है माँ। 


Shukriya hai bhagwan ka
Hame uska pyaar dilaya
Maa ko duniya mee laakar 
Mujhe ek uphaar dilaaya
Ab aur kya chahiye maa ki
Chaya mee pura bachpan bitaya 

शुक्रिया है भगवान का
हमें उसका प्यार दिलाया
माँ को दुनिया में लाकर
मुझे एक उपहार दिलाया
अब और क्या चाहिए हैं मां की
छाया में पुरा बच्चन बिताया। 

माँ पर दो लाइन शायरी

Tere dudh ka haq 
Mujhse kya ada hoga
Agar tu mujhse naraz hai
Toh khuda kya hoga..!

तेरे दूध का हक
मुझसे क्या अदा होगा
अगर तू मुझसे नराज है
तो खुदा क्या होगा। 


Maa ke pyar mein ek 
Alag hi milawat hai
Jo kisi aur ke pyar mee
Dekhne ko nahi milengi..!

माँ के प्यार में एक
अलग ही मिलावट है
जो किसी और के प्यार में
देखने को नहीं मिलेंगी। 


Aaj kal ke insaan
Iss baat se anzaan hai
Dur ho jate hai maa se jo
Bhagwan ka ek vardaan hai..!

आज कल के इंसान
इस बात से अंजान है
दूर हो जाते हैं मां से जो
भगवान का एक वरदान है। 


Mudaato tak maa 
Chain se nahi soyi
Maine ek baar kaha 
Mujhe andhere se 
Dar lagta hai..!

मुदतो तक माँ
चैन से नहीं सोई
मैने एक बार कहां
मुझे अंधेरे से
डर लगता है। 

Best maa ki mohabbat shayari in hindi

Ghar se hum yu hi 
Nikal aaya karte hai
Kaha gaye wo din jab 
Maa ke pairr chue bina 
Koi kaam nahi hota tha

घर से हम यू ही
निकल आया करते हैं
कहा गए वो दिन जब
माँ के पैर छुए बिना
कोई काम नहीं होता था। 


माँ पर शायरी हिंदी में
माँ पर शायरी हिंदी में

Kisi ko mahal mila
Kisi ke hisse car aayi
Mera dil bada tha mere
Hisse mee Maa aayi..!

किसी को महल मिला
किसी के हिस्से कार आई
मेरा दिल बड़ा था मेरे 
हिस्से में माँ आई। 


Mai raatbhar chain ki neend
Sota raha subah utha toh maine
Khud ko maa ki goud mee paya

मै रातभर चैन की नींद
सोता रहा सुबह उठा तो मैंने
खुद को मां की गोद में पाया। 

माँ पर शायरी हिंदी में

Maa ki seva karo toh
Jannat khud tumhare 
Paas aa jaayegi..!

माँ की सेवा करो तो
जन्नत खुद तुम्हारे
पास आ जाएगी। 


Maa naam chota hai magar
Iska mukaam bohot bada hai..!

माँ नाम छोटा है मगर
इसका मुकाम बोहोत बड़ा है। 


Maa tu mere jeene ka sahara
Kal bhi thi aur aaj bhi hai
Tu bhale hi mere sath naa ho
Teri baate mere zehen mee hai..!

मां तू मेरे जीने का सहारा
कल भी थी और आज भी है
तू भले ही मेरे साथ ना हो
तेरी बाते मेरे जहन में है। 


Maa mujhe itni jaldi
Kuch nahi hoga jab
Mai ghar se nikalta hu
Toh teri dua sath rehti hai..!

माँ मुझे इतनी जल्दी
कुछ नहीं होगा जब
मै घर से निकलता हुं
तो तेरी दुआ साथ रहती है। 

Best maa ki mamata shayari

Maa tera pyar dekhkar
Meri aankhe num ho jati hai
Teri baatein itna sukun deti hai
Aur meri taqlife kum ho jati hai

माँ तेरा प्यार देखकर 
मेरी आंखे नम हो जाती है
तेरी बातें इतना सुकून देती है 
और मेरी तक़लीफ़े कम हो जाती है।  


माँ की ममता पर शायरी
माँ की ममता पर शायरी

Jis maa ne kabhi mera hath
Nahi chouda toh
Main uska hath kaise choud
Sakta hoon..!

जिस मां ने कभी मेरा हाथ
नहीं छोड़ा तो
मैं उसका हाथ कैसे छोड़
सकता हूं। 


Jab maa ka hath 
Sar ke upar hai toh
Phir sir ke neeche 
Takiye ki kya jarurat hai

जब मां का हाथ
सर के ऊपर है 
तो फिर सर के नीचे
तकिए की क्या ज़रुरत है। 

माँ की मोहब्बत शायरी

Jis maa ne chalna sikhaya
Usse kabhi rula nahi sakte
Hum mar sakte hai magar
Maa ko dukh de nahi sakte 

जिस मां ने चलना सिखाया
उसे कभी रूला नहीं सकते
हम मर सकते हैं मगर
मां को दुख दे नहीं सकते। 


Maa ki duae milo dur
Pardesh bhi pohoch jaati hai..!

मां की दुआए मिलो दूर
परदेश भी पोहोच जाती है। 


Iss tarah meri galtiyo ko
Dho deti hai
Saamne aate hi meri maa
Roo deti hai..!
 
इस तरह मेरी गलतियो को
धो देती है
सामने आते ही मेरी माँ
रो देती है। 


Apne chote mooh se
Kaise karu tera gun gaan
Teri mamta ke aage toh
Mujhe fika lagta hai bhagwan

अपने छोटे मुह से
कैसे करू तेरा गुण गान
तेरी ममता के आगे तो
मुझे फिका लगता है भगवान। 

Best maa ka pyar shayari

Dur hai manzil aur 
Safar bohot hai
Choti  hai zindagani or
Fikra bohot hai
Kab ke mar jaate hum 
Iss jahan mee
Magar maa ki duao mee
asar bohot hai..!

दूर है मंजिल और
सफर बोहोत है
छोटी है ज़िंदगानी और
फिक्र बोहोत है
कब के मर जाते हम
इस जहान में
मगर माँ की दुआओ में
असर बोहोत है। 


Mat socho zindagi mee
Kya mila aur kya nahi
Jiske paas maa hai samjho
Usse sab kuch mil gaya..!

मत सोचो जिंदगी में
क्या मिला और क्या नहीं
जिसके पास मां है समझो
उसे सब कुछ मिल गया। 


Kyo khayal nahi aata uska 
Wo sabse phele hame yaad 
Karti hai jab bhi jaati hai kisi 
Mandir masjid sabse phele Maa 
Hamari salaamati ki dua karti hai

क्यो ख्याल नहीं आता उसका
वो सबसे पहले हमें याद 
करती है जब भी जाती है किसी
मंदिर मस्जिद सबसे पहले माँ 
हमारी सलामती की दुआ करता है। 


Uski goud mee sar rakhu
Toh sukun milta hai aur
Agar khud pareshan ho toh
Haal e dil apna chupati hai maa

उसकी गोद में सर रखू
तो सुकून मिलता है और
आगर खुद परशान हो तो
हाल ए दिल अपना छुपाती है मां। 

माँ की ममता पर शायरी

Bacho ko muskurata dekh
Khud muskuraati hai meri maa
Agar taqlif ho mujhe koi toh
Aankhe barsaati hai meri maa..!

बच्चों को मस्कुराता देख
खुद मुस्कुराती है मेरी मां
अगर तकलीफ हो मुझे कोई तो
आंखे बरसती है मेरी मां। 

◼◼◼◼◼◼◼

आप इन्हे भी देख सकते है :




Previous Post Next Post